ऐसी क्या जरूरत पड़ी कि झारखंड में अधिकारी बनना चाहते हैं विराट कोहली

ऐसी क्या जरूरत पड़ी कि झारखंड में अधिकारी बनना चाहते हैं विराट कोहली

दैनिक_खोज_खबर के लिए झारखंड से रितुराज की रिपोर्ट :-रांची-भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम से भी झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा का फॉर्म भर दिया गया था। फॉर्म में विराट के बारे में सारी जानकारी ही नहीं  उनकी तस्वीर भी लगाई गई थी। 
हालांकि जेपीएससी के पदाधिकारियों ने किसी सिर फिरे अभ्यर्थी की इस ओछी हरकत को ताड़ लिया था और उसे पकड़ने की पूरी तैयारी भी कर ली गई थी, लेकिन विराट कोहली के नाम से फॉर्म भरनेवाला कोई अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल ही नहीं हुआ। 
आयोग के सचिव मनोज कुमार झा तथा परीक्षा नियंत्रक वीएन अखौरी ने सोमवार को कहा, इस तरह की गलत जानकारी देनेवाले अभ्यर्थियों के फॉर्म रिजेक्ट हुए थे। वैसे अभ्यर्थियों की ओएमआर शीट रद हुई, जिन्होंने इसे सही ढंग से नहीं भरा था।
पदाधिकारियों ने बताया कि पिछली परीक्षा में सही ढंग से गोला नहीं भरने के कारण कई ओएमआर शीट रद होने के बाद आयोग ने इस बार ओएमआर शीट में गोला की संख्या कम कर दी थी। 
इस बार सिर्फ रोल नंबर तथा क्वेश्चन बुकलेट सीरीज की ही जानकारी गोले में भरनी थी, जबकि इससे पहले इन दोनों के अलावा, पाली, विषय कोड, सेंटर कोड आदि भी गोले में ही भरना था। कई अभ्यर्थियों ने दो गोला भरने में भी गलती कर दी।कुछ अभ्यर्थियों ने दूसरे अभ्यर्थियों का रोल नंबर डाल दिया। ऐसा जानबूझकर किया जाता है ताकि डबलिंग होने पर उसके अलावा उक्त अभ्यर्थी की भी ओएमआर शीट रद्द हो जाए।

Advertisements
%d bloggers like this: