बालू माफिया के सामने कानून हुआ बेचारा

बालू माफिया के सामने कानून हुआ बेचारा

⏭ झारखंड:-जरमुंडी प्रखंड में कानून के राज् को मुंह चढ़ाने का काम बदस्तूर जारी है बालू माफिया के सामने कानून बेचारा सा लगता है इस बेचारगी के पीछे कानून के रखवाले का बहुत बड़ा हाथ है।

 विदित हो कि जरमुंडी प्रखंड में बालू माफिया के बढ़ते प्रभाव के सामने सभी घुटने टेक दिए हैं बालू माफिया के हनक का असर इस कदर दिखता है कि बालू के अवैध व्यापार पर शिकंजा कसने के बजाए इसका व्यापार बढ़ता जा रहा है।

 स्थिति यह है कि जरमुंडी प्रखंड में खुलेआम बालू की ढोल आई और बिक्री जारी है इस धंधे में लगे लोगों को सत्तारुढ़ दल के नेता के अलावा विपक्षी दलों के नेताओं का आशीर्वाद प्राप्त है परिणाम स्वरूप इस गोरखधंधे का पड़ोस के राज्यों तक विस्तार हो गया है।

 हालत यह है की अंतर्राज्जीय अपराधी गिरोह के कुख्यात अपराधी स्थानीय बालू माफिया के कारोबार  को नए क्षितिज पर पहुंचाने में लगे हुए हैं हम लोगों की क्या हैसियत जो इन के अवैध व्यापार में अवरोधक बने अगर किसी ने ऐसी हरकत की तो उसका अंजाम वही होता है जो सबको मालूम है

Advertisements
%d bloggers like this: