*नालंदा:​पुल के निर्माण नही होने से गांव के ही लोग दो भाग मे हुए विभक्त*

*नालंदा:​पुल के निर्माण नही होने से गांव के ही लोग दो भाग मे हुए विभक्त*

👉चर्चरी बांस के पुल का लोग ले रहे सहारा

👈रवि रंजन सिंह”दैनिक खोज खबर”बिहारशरीफ (नालंदा)👉जिले के  नगरनौसा प्रखंड के रामपुर पंचायत अंतर्गत मोउद्दीनपुर गांव में पीछले तीन बर्षो से अधिक समय पूर्व नहर की खुदाई हो जाने के बाद भी अब तक पुल का निर्माण नही होने से गांव की आबादी दो भागों में विभक्त हो गई है। जिससे आम लोग को एक तरह से दूसरे तरफ जाने में भारी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा परेशानी स्कूली बच्चों को हो रहा है। ग्रामीण किसी तरह अस्थाई चर्चरी बांस से निर्मित पुल के सहारे इस तरफ से दूसरी तरह जा रहे है जो कभी भी हादसा का शिकार हो सकता है। कमलेश यादव, जोधी यादव, बेचन मांझी, विनोद मांझी, सुंदर यादव, जोगिंदर यादव आदि दर्जनों ग्रामीण ने बताया कि बिगत तीन बर्ष पूर्व नहर की खुदाई हो जाने के बावजूद भी अबतक पुल का निर्माण नही हो सका है। 

जनप्रतनिधि से लेकर स्थानीय प्रसाशन तक पुल बनाने का गुहार लगायें, लेकिन अबतक जनप्रतनिधि से लेकर स्थानीय प्रसाशन तक समस्या से अंजान बन कर कुम्भकर्ण की निंद्रा में सोये हुए है। पुल का निर्माण नही होने से नहर पर अस्थाई चर्चरी बांस से निर्मित पुल बना कर कृषि कार्य व् स्कूली बच्चों अपने स्कुल जा पाते है। बांस का पुल भी बारिश व् धुप सहते सहते जर्जर हो चुकी है। जो कभी भी बड़े हादसा का खुला निमंत्रण दे रहा है। लेकिन फिर भी जनप्रतनिधि चुनावी वादा कर चुनाव में निर्वाचित होते ही लोगो के आम समस्या से अनभिग्न हो जाते है।

Advertisements
%d bloggers like this: