​दो महिलाओं के बीच झगड़ा शांत कराना इस युवक को पड़ा ईतना भारी की जान………!

जख्मी दिलखुश का ईलाज के क्रम में हुई मौत

मृतक युवक दिलखुश यादव

सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) ब्रजेश भारती ।

बख्तियारपुर सर्किल क्षेत्र के सलखुआ थाना अन्तरगर्त पूर्वी कोशी बांध के कछार पर अवस्थित उटेसरा गांव में शनिवार की देर शाम दो महिलाओं के बीच धरेलू विवाद को शांत कराना ईतना महंगा पड़ा की उसे जान से हाथ धोना पड़ा।

शनिवार की देर शाम उटेसरा गांव निवासी फूनटून यादव की पत्नी व रबेन यादव की पत्नी अनिता देवी के बीच घरेलू विवाद चल रहा था इसी झगड़े को शांत कराने के दौरान 25 वर्षीय दिलखुश यादव को फूनटून यादव ने गोली मार कर जख्मी कर दिया गया। जिसकी देर रात सहरसा में इलाज के दौरान मौत हो गई।

मृतक के घर लोगों की भीड़

वही मृतक के पिता कृष्ण यादव ने पुलिस को दिये बयान में कहा कि शनिवार की शाम फुनटुन यादव और रावेन यादव की पत्नियों में घरेलू विवाद को लेकर नोकझोक हो गई.जिसे शांत कराने के लिए मेरा पुत्र दिलखुश यादव पहुंचा.इसी बीच श्री चन्द्र यादव, उदय चन्द्र यादव, राकेश यादव और शिंकु यादव मेरे पुत्र को मारपीट करने लगे.उसी वक्त मैं पहुंचा और अपने पुत्र की पिटाई की वजह पूछने लगा और मैने पुत्र को ना पीटने की अपील की.इसी बीच फुनटुन यादव देशी कट्टा लेकर आया और मेरे पुत्र के पीठ के पीछे गोली मार दी.गोली लगते ही वह गिर गया.जिसे आनन-फानन में सलखुआ पीएचसी लाया गया और प्राथमिक उपचार के बाद घायल को बेहतर इलाज के लिए सहरसा रैफर किया गया.जहाँ उसकी इलाज के क्रम में मौत हो गई.इधर, घटना के सम्बन्ध में सलखुआ थानाध्यक्ष तरुण कुमार तरुणेश ने बताया कि दिये फर्द बयान के आधार प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए सघन छापेमारी जारी है।जल्द सभी आरोपी सलाखों के पीछे होगा।

रोते बिलखते परिजन

वही रविवार दोपहर सहरसा से मृतक के पोस्टमार्टम के बाद शव के गांव पहुँचते ही मृतक के परिजनो का सब्र का बाँध टूट गया।रुंधे गले और नम आँखों से मृतक के परिजनों ने बताया कि दिलखुश एक होनहार लड़का था, उसका जाना परिवार के लिए बड़ी क्षति है।वही घटना पर भाजपा नेता यपुरा वाडट ने मृतक के घर पहुँच शोकाकुल परिवार को ढाढ़स बंधाया।

Advertisements
%d bloggers like this: